Breaking News

Breaking News English

Urgent::www.AMUNetwork.com needs Part Time campus Reporters.Please Contact:-deskamunetwork@gmail.com
अलीगढ़ ::एएमयू कुलपति जमीरउद्दीन शाह का सेवा काल सेना के इतिहास में स्वच्छ, अनुशासनप्रिय एवं वीरता की गाथाओं से परिपूर्ण है।

अमुवि हॉकी इशू :सर सय्यद के चमन पर ये जात पात कैसे।

अलीगढ। पूर्व हॉकी कप्तान आसिफ को अमुवि हॉकी टीम में जगह नहीं मिलने पर मामला उस वक्त गरमा गया जब आसिफ ने बताया की उसको टीम में इस लिए नहीं लिया गया की वो पिछड़ी जाती का है। ये बात अमुवि के छात्रो में जंगल में आग की तरह फेल गई यहाँ तक की अलीगढ की एक वेबसाइट मुस्लिम इशू ने इसको छापा भी।
सर सय्यद के चमन पर ये जात पात कैसे।
अमुवि हॉकी टीम के पूर्व कप्तान आसिफ ने जारी प्रेस रिलीज़ में कहा की " में आसिफ खुर्शीद पूर्व हॉकी कप्तान हूँ. मेरी टीम आज जामिअ मिल्लिया इस्लामिा खेलने गयी है. मुझे टीम में नहीं लिया गया. में सबसे सीनियर खिलाड़ी हूँ. और पूर्व कप्तान भी रह चूका हूँ.
डॉक्टर शोएब ज़हीर जो हॉकी क्लब के प्रेजिडेंट हैं और अरशद मेहमूद कोच हैं वो मुझ पर पिछड़ी जाती का होने की वजह से अत्याचार करते हैं. सन 2013 में भी इन लोगो ने मुझे कप्तान नहीं बनने दिया था. जब मेने मीडिया में कहने के लिए कहा और अगले साल वाईस चांसलर को मर्सी अपील लिखी तो उन्होंने दया के तोर पर मुझे कप्तान बनाया.
शोएब ज़हीर और कप्तान अरशद मेहमूद की वजह से क्लब को बहुत नुक्सान हो रहा है. ये ज़ात पात जैसी ज़ेहनी बीमारी को मानते हैं.
इनके लिए स्पोर्ट एडवाइजर स्येद हकीम साहब ने भी आवाज़ उठाई पर इनका कोई बाल बांका नहीं हुआ. आप मेरी आवाज़ को अवाम तक पहुंचाएं"
डॉक्टर शोएब ज़हीर जो हॉकी क्लब के प्रेजिडेंट है जब www.AMUNetwork.com ने बात की तब उन्होंने अपनी बात रखते हुए कहा की आसिफ पूर्व कप्तान है।अब वो जात की बात कर रहे है। ते बात उन्होंने तब क्यों नहीं की जब हमने उनको हॉकी टीम का कप्तान बनाया था। हमने 23 लोगो की प्रेक्टिस में से 18 का चयन किया है। चयन फ़ॉर्म के आधार पर हुआ है। 5 लोग जो नहीं चुने गए ये उनमे से एक है और लगातार मीडिया में जाने की धमकिया दे रहे है। जहा तक बात जात की है तो में जब हिन्दू मुस्लिम में कोई भेद भाव नहीं समझता तो फिर जात की बात ही नहीं। टीम का सिलेक्शन कोच और मोजुदा कप्तान ने खिलाडीयो की फॉर्म के आधार पर किया है।

No comments:

Post a Comment